UP के विंध्याचल में गंगा पार करने के दौरान नाव पलटी, आदित्यपुर के रहनेवाले परिवार के लोगों के डूबने की खबर. मुख्यमंत्री ने घटना पर लिया संज्ञान, 6 बचे, 6 लापता

जमशेदपुर : आदित्यपुर के बाबा आश्रम के रहने वाले एक ही परिवार के लोग मिर्जापुर विंध्याचल गए थे जिसमें नाव पलटने से परिवार के तीन बच्चे समेत कुल आठ लोगों के नदी में डूबने की बात सामने आ रही है । खबर है कि नाव में कुल 12 लोग सवार थे जिसमें ग्यारह लोग एक ही परिवार के थे ।

घटना मिर्जापुर जिले के विंध्याचल क्षेत्र के अखाड़ा घाट पर बुधवार की दोपहर गंगा पार से स्नान करने के बाद दर्शनार्थियों को लेकर आने के दौरान हुई जिसमे आते वक्त नाव गंगा में पलट गई। जिससे उसमें सवार नाविक समेत 12 लोग गंगा नदी में डूबने लगे।

नाव डूबने पर गंगा किनारे मौजूद लोगों ने पुलिस को सूचना दी। गोताखोरों की मदद से नाविक और पांच दर्शनार्थियों को बाहर निकाला। वहीं, छह लोग लापता हो गए हैं। मौके पर पहुंची पुलिस जाल डलवा कर गोताखोरों की मदद से लापता लोगों की तलाश में जुटी है।

बता दें कि झारखंड के जमशेदपुर से पति पत्नी और एक दो माह की बच्ची और रांची से पति , पत्नी और दो बेटी के साथ परिवार के अन्य लोग भी शामिल थे । दर्शन पूजन करने से पहले सभी गंगा घाट स्नान करने के लिए गए। बताया जाता है कि परिवार के सभी लोग अखाड़ा घाट पर पहुंचे तो वहां पर कीचड़ था, इसलिए गंगा स्नान करने के लिए सभी नाव पर सवार होकर गंगा पार गए। स्नान करने के बाद सभी नाव पर सवार होकर उस पार से इस पार आ रहे थे, तभी बारिश के साथ तेज हवा चलने लगी। इस बीच नाव गंगा में पलट गई। जिसमें नाविक समेत सभी 12 लोग गंगा नदी में गिर गए। 

खबर लिखे जाने तक दो पुरुष राजेश तिवारी , दीपक कुमार मिश्रा और एक बच्ची अल्का समेत विकास, वाहन चालक (अज्ञात), रितिका को सुरक्षित निकाले जाने की सूचना है वहीं, नाव में सवार गुड़िया, खुशबू, अनीषा, सत्यम सहित एक बच्चा और एक बच्ची नदी में डूब गए। जिनकी तलाश जारी है। खबर मिलने के बाद परिवार समेत मुहल्ले में हलचल मचा हुआ है जिसके बाद परिवार के लोग विंध्याचल के लिए रवाना हो चुके है ।

मुख्यमंत्री ने घटना का लिया संज्ञान

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जनपद मिर्जापुर में गंगा नदी में नाव पलटने से लोगों के डूबने की दुर्घटना का संज्ञान लेते हुए जिला प्रशासन के अधिकारियों को तत्काल मौके पर पहुंचकर बचाव एवं राहत कार्य संचालित करने के निर्देश दिये है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *