ज़िला प्रशासन की पहल…सड़क दुर्घटना में लोगों की मदद करने के लिए जीवन रक्षा दल का गठन

कोडरमा। जिला प्रशासन कोडरमा के द्वारा जिले में बेहतर शिक्षा व स्वास्थ्य व्यवस्था हो, इस हेतु कई नवाचार गतिविधियों की कवायद की जा रही है। स्कूलों को मॉडल बनाये जा रहे हैं, वहीं अस्पतालों को पहले से बेहतर सुदृढ़ किया जा रहा है। इतना ही नहीं सड़क पर हो रहे दुर्घटनाओं को रोकने के लिए सड़क सुरक्षा नियमों के तहत कई कार्य किये जा रहे हैं। पेट्रोल पंपों में नो हेलमेट नो पेट्रोल, अनावश्यक पार्किंग का साइन बोर्ड लगया गया है। जिले के ब्लैक स्पॉट अंतर्गत सड़क दुर्घटनाओं को रोकने के लिए कार्य किये जा रहे हैं। इस कड़ी में जिला प्रशासन कोडरमा की पहल से जिले के 09 ब्लैक स्पॉट हेतु 41 जीवन रक्षा दल का गठन किया गया है। जीवन रक्षा दल का उद्देश्य सड़क दुर्घटना में ग्रसित लोगों को मदद करना है ताकि हरसंभव उनका जीवन बचाया जा सके।

आज उपायुक्त श्री आदित्य रंजन की उपस्तिथि में जीवन रक्षा दल के सदस्यों को फर्स्ट ऐड किट का प्रशिक्षण दिया गया। सदर अस्पताल के चिकित्सकों के द्वारा सदस्यों को बहुत बरीकियों से फर्स्ट ऐड किट के बारे में बताया गया। उपायुक्त श्री रंजन ने अपने संबोधन में कहा कि जीवन रक्षा दल एक अच्छी शुरुआत है। इसमें बढ़चढ़कर हिस्सा लें। सड़क दुर्घटना में घायलों को मदद करने के लिए जीवन रक्षा दल का गठन किया गया है, लोगों को मदद करे, यही हमारा उद्देश्य होना चाहिए। साथ ही जिलावासियों से अपील करते हुए उपायुक्त ने कहा कि दो पाहिया वाहन चलाते हेलमेट जरुर पहने। अधिक गति में वाहन न चलाये। उपायुक्त के द्वारा जीवन रक्षा दल के सदस्यों को फर्स्ट ऐड किट प्रदान किया गया। इस मौके पर अनुमंडल पदाधिकारी मनीष कुमार, सड़क सुरक्षा समिति से हिमांशु सिंह, सदर अस्पताल के चिकित्सक व जीवन रक्षा दल के सदस्य मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *