जापानी इंसेफेलाइटिस(जे.ई) से संबंधित एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया | चाईबासा

चाईबासा । पश्चिमी सिंहभूम जिला मुख्यालय शहर चाईबासा स्थित सदर अस्पताल के सभागार में मच्छर जनित रोग नियंत्रण प्राधिकारी डॉ. बी.वी टोपनो के अध्यक्षता तथा जिला सर्विलांस पदाधिकारी डॉ संजय कुजूर, मलेरिया निरीक्षक डॉ आर के शशि सहित जिला के सभी 15 सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के चिकित्सा पदाधिकारी, मच्छर जनित रोग नियंत्रण इंचार्ज एवं एएनएम की उपस्थिति में जापानी इंसेफेलाइटिस(जे.ई) से संबंधित एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। प्रशिक्षण के क्रम में उपस्थित व्यक्तियों को बताया गया कि जे.ई रोग विश्नोई ग्रुप के मच्छर से फैलता है जो सूअर या जलीय पक्षी से वायरस लेकर आदमी को संक्रमित करता है,

और यह रोग पुरुष एवं महिला दोनों को हो सकता है, परंतु इस रोग से 14 वर्ष तक की उम्र के बच्चे ज्यादा ग्रसित होते हैं। बैठक में बताया गया कि रोग से बचाव के लिए जारी स्वास्थ्य कार्यक्रमों के सफल संचालन एवं इससे संबंधित जागरूकता फैलाना एक महत्वपूर्ण कार्य है ताकि निर्धारित ग्रुप की निगरानी अच्छे से किया जा सके क्योंकि उपचार में देरी होने पर रोग से ग्रसित व्यक्ति की मृत्यु भी हो सकती है। कार्यशाला के दौरान इस रोग से संबंधित विभिन्न लक्षणों सहित रोकथाम हेतु आवश्यक विभिन्न बिंदुओं को पावर प्रजेंटेशन के द्वारा प्रदर्शित किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *