हजारिबाग में चला अमृत महोत्सव में सफ़ाई अभियान महलाओं का

हजारीबाग । ज्ञात हो कि ज़िले 15 सितंबर से 31 अक्टूबर 2021 तक जिला, प्रखंड, पंचायत एवं ग्राम स्तर पर स्कूली छात्र/छात्रा, स्वयं सहायता समूह के सदस्यों की सहायता से, आंगनवाड़ी वर्कर, वरिष्ठ नागरिक, धर्मगुरु एवं अन्य लोगों के माध्यम से ठोस एवं तरल कचरा का समुचित प्रबंधन हेतु जनजागृति का संचार किया जाना है। इसके तहत कई कार्यक्रम भी किए जा रहे हैं।आज हुए कार्यक्रम के दौरान जल सहिया, पंचायत स्तर के कर्मी, आंगनवाड़ी सेविका,सहिया, स्वयं सहायता समूह की महिलाओं आदि ने विभिन्न पंचायतों में स्वच्छता अभियान चलाते हुए सड़कों मोहल्लों ग्राम आदि की सफाई की।इस बीच श्रमदान करते हुए महिलाओं ने लोगों से सड़क पर कूड़ा कचरा ना फेंकने, प्लास्टिक का इस्तेमाल न करने कि, अपने आस-पास स्वच्छ वातावरण बनाने के लिए प्रतिबद्धता दिखाने एवं आपसी सहयोग से समय-समय पर साफ सफाई करते हुए टोले,मोहल्ले, ग्राम एवं पूरे समाज को स्वच्छ रखने कि अपील की।इस दौरान बताया गया कि समाज के सभी लोगों को ठोस एवं तरल कचरा के समुचित प्रबंधन के लिए तकनीकी रूप से सफल होने की आवश्यकता है।ग्रामीणों को बताया गया कि ठोस कचरा को दो भागों में बांट कर देखा जा सकता है। जैविक कचरा एवं अजैविक कचरा जबकि दूसरी तरफ तरल कचरा प्रबंधन को भी दो भागों में बांटा गया है ग्रे वॉटर और ब्लैक वाटर तरल कचरा का प्रबंधन सोक पिट निर्माण कर किया जा सकता है, साथ ही गोवर्धन योजना एवं प्लास्टिक प्रबंधन पर उपस्थित प्रतिभागियों के बीच विस्तृत जानकारी भी उपलब्ध कराई गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *